केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा दोगुना फायदा, DA और अप्रेजल से बढ़ जाएगी सैलरी, जानें कब आएगा पैसा

 112 ,  4 

डीए में इजाफे के साथ-साथ अप्रेजल भी किए जाएंगे

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी है. जल्द ही लाखों कर्मचारियों को दोगुना फायदा मिलना वाला है यानी डीए में इजाफे के साथ-साथ अप्रेजल भी किए जाएंगे, जिसके बाद उनकी सैलरी में ज्यादा इजाफा हो जाएगा. इसके साथ ही प्रमोशन भी होगा. बता दें कर्मचारियों के लिए अप्रेजल विंडो खोल दिया गया है. अप्रेजल विडों 30 जून तक खुली रहेगी. 30 तारीख तक सभी कर्मचारियों को अपना सेल्फ असेसमेंट फॉर्म फिल करके समय पर जमा करना होगा.

अप्रेजल का काम ‘एनुअल परफॉर्मेंस असेसमेंट रिपोर्ट’ (APAR) के तहत किया जाएगा. बता दें इस अप्रेजल साइकिल में सभी केंद्रीय कर्मचारियों को शामिल किया जाएगा. फिलहाल यह अप्रेजल विंडो ग्रुप ए, ग्रुप बी, ग्रुप सी के कर्मचारियों के लिए ओपन की गई है.

31 दिसंबर तक पूरा करना है ये काम

देशभर में फैली कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए सरकार ने कहा कि इस काम को 31 दिसंबर 2021 तक पूरा कर लेना. इसके बाद अप्रेजल को आगे नहीं बढ़ाया जाएगा. इससे पहले पिछले साल भी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के 2019-20 के APAR की तारीख को आगे बढ़ाया था.

SPARROW पोर्टल के जरिए किया जाएगा काम

सरकार ने सीएसएस, सीएसएसएस और सीएससीएस कैडर के ग्रुप ए, बी और सी के अधिकारियों के अप्रेजल का काम शुरू कर दिया है. अप्रेजल का काम SPARROW पोर्टल के तहत 2020-21 के लिए किया जाना है.

DoPT के मुताबिक, केंद्रीय कर्मचारियों को ऑनलाइन फॉर्म दे दिए गए हैं. अब इंक्रीमेंट की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. कर्मचारियों को अपना फॉर्म रिपोर्टिंग ऑफिसर को 30 जून तक जमा करना होता है. पूरी प्रक्रिया 31 दिसंबर तक पूरी होगी.

जुलाई तक बढ़ सकती है सैलरी

आपको बता दें कर्मचारियों को अभी 17 फीसदी की दर से DA का भुगतान होता है, आगे ये 11 फीसदी से बढ़कर 28 फीसदी होने की उम्मीद है. इससे उनकी सैलरी में जबरदस्त इजाफा होगा. वहीं, कर्मचारियों को सीधे दो साल के DA का फायदा एकसाथ मिलने वाला है, क्योंकि जनवरी 2020 में केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 4 फीसद बढ़ा था, फिर दूसरी छमाही यानी जून 2020 में 3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी, अब जनवरी 2021 में महंगाई भत्ता एक बार फिर 4 फीसदी बढ़ा है यानी कुल 28 फीसदी हो गया है.

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार