सुपुर्द-ए-खा हुए अहमद पटेल, माता-पिता की कब्र के पास की गई दफनविधि

 105 ,  1 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल की दफनविधि में राहुल गाँधी सहित कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता उपस्थित रहे

कांग्रेस के वरिष्ठ ने अहमद पटेल का 71 साल में कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया। भरूच जिले के पिरामण गांव के रहने वाले अहमद पटेल की इच्छा थी कि उनकी दफन-विधि पीरामण गांव में ही माता-पिता की कब्र के पास की जाए। इसीलिए माता-पिता की कब्र के बगल में ही उनकी कब्र बनाई गई है।

अहमदाबाद पटेल की दफनविधि के दौरान कांग्रेस के नेता राहुल गांधी सहित कई कांग्रेस नेता उपस्थित रहे।

अहमद पटेल का राजनीतिक सफर

अहमद मो. ईशाजी पटेल का जन्म 24 अगस्त 1949 में हुआ था। उनके पिता भी भरुच तहसील के पंचायत प्रतिनिधि थे। अहमद पटेल ने पहला लोकसभा चुनाव 28 वर्ष की उम्र भरुच सीट से 1977 में 62 हजार से अधिक मतो से जीता था। उसके बाद 1980 व 84 में भी लगातार भारी मतों से जीतते रहे। वे 1993 से सोनिया गांधी व कांग्रेस के राजनीतिक सलाहकार रहे। वे कांग्रेस पार्टी के कोषाध्यक्ष, संसदीय सचिव व पार्टी के संयुक्त व महासचिव पद पर भी रहे। उनका ना केवल गुजरात बल्कि राष्ट्रीय स्तर पर भी कांग्रेस पार्टी में काफी दबदबा था।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार