दिल्ली विधानसभा चुनाव सभी सीनियर नेता लड़ेः सोनिया गाँधी

 18 ,  1 

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को विधानसभा चुनाव लड़ने का निर्देश दिया है. सोमवार शाम सोनिया गांधी ने लोकसभा चुनाव लड़े नेताओं की बैठक बुलाई जिसमें ये निर्देश दिए गए. वहीं इस बैठक में दिल्ली कांग्रेस के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया ने सोनिया गांधी के सामने प्रस्ताव रख दिया कि वो मुख्यमंत्री केजरीवाल के सामने लड़ना चाहते हैं.

दरअसल, दिल्ली कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता विधानसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहते. नेताओं की ये बेरुखी पार्टी आलाकमान को रास नहीं आ रही है. पार्टी आलाकमान की राय है कि कांग्रेस मजबूती से लड़ती हुई दिखनी चाहिए. इसीलिए बड़े नेताओं खास तौर पर लोकसभा चुनाव लड़ने वाले नेताओं को विधानसभा चुनाव लड़ने के निर्देश दिए गए हैं.

बैठक में अजय माकन, जेपी अग्रवाल, अरविंदर सिंह लवली, राजेश लिलोठिया और नसीब सिंह मौजूद थे. हालांकि कौन-कौन से बड़े नेता लड़ेंगे ये अभी साफ नहीं है क्योंकि सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी के सामने भी एक नेता ने उम्र का हवाला देते हुए चुनाव लड़ने में असमर्थता जाहिर की तो वहीं एक नेता ने फैसला लेने के लिए एक दिन का समय मांगा है.

आपको बता दें कि प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा और कैम्पेन कमिटी प्रमुख कीर्ति आजाद खुद की जगह क्रमशः बेटी और पत्नी को चुनाव लड़ाना चाहते हैं. वहीं घोषणापत्र समिति के प्रमुख अजय माकन भी चुनाव लड़ना नहीं चाहते.

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष जेपी अग्रवाल भी बेटे को टिकट दिलाने की कोशिश में हैं. पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया भी चुनाव लड़ने के मूड में नहीं थे लेकिन अब उन्होंने केजरीवाल के सामने लड़ने का प्रस्ताव दे दिया है.

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार