दो ट्रिलियन डॉलर की पहली अमेरिकी कंपनी बनी Apple

 105 ,  1 

दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी Apple इंक का बाजार पूंजीकरण दो ट्रिलियन डॉलर यानी दो लाख करोड़ डॉलर (लगभग 150 लाख करोड़ रुपये) पर पहुंच गया है। यह मुकाम हासिल करने वाली वह अमेरिका की पहली कंपनी है। कंपनी ने दो साल पहले ही एक ट्रिलियन डॉलर यानी एक लाख करोड़ डॉलर का बाजार मूल्य हासिल किया था। नास्डैक पर बुधवार के सुबह कारोबार के दौरान Apple का शेयर 467.77 डॉलर पर पहुंच गया और इसके साथ ही कंपनी का पूंजीकरण दो ट्रिलियन डॉलर पहुंच गया।

Apple की स्थापना स्टीव जॉब्स ने वर्ष 1976 में पर्सनल कम्प्यूटर्स की बिक्री के लिए किया था और अब इसने दो ट्रिलियन डॉलर का बाजार पूंजीकरण हासिल कर लिया। यह राशि अमेरिका के पिछले साल के टैक्स संग्रह की आधी राशि से थोड़ा अधिक है। हालांकि दुनिया की बात करें तो Apple दो ट्रिलियन डॉलर का मार्केट कैप हासिल करने वाली पहली कंपनी नहीं है। सऊदी अरैमको पिछले वर्ष स्टॉक मार्केट में आते ही इस मुकाम पर पहुंच गई थी। हालांकि कोरोना संकट के चलते दुनियाभर में तेल की खपत में बड़ी कमी आई और अरैमको का पूंजीकरण घटकर 1.7 लाख करोड़ डॉलर के आसपास रह गया है।

इस बीच, खबरों के मुताबिक Apple ने चीन के अपने एप स्टोर से कम से कम 47,000 एप को हटा दिया है। Apple ने कथित तौर पर इनमे से अधिकतर एप चीन की इजाजत के बिना एप स्टोर में रखे हुए थे। रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन की टिकटॉक व वीचैट के खिलाफ जिस तरह मोर्चा खोला है, उसी के जवाब में चीन अब Apple पर सख्ती दिखा रहा है।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार