देश में दोपहर 1.42 से शाम 6.41 तक रहेगा ग्रहण; सिर्फ लद्दाख और अरुणाचल में दिखेगा

 138 ,  14 

आज साल का पहला सूर्यग्रहण है। यह नॉर्थ अमेरिका, यूरोप और एशिया में देखा जा सकेगा। भारत में ग्रहण सूर्यास्त के पहले लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में दिखेगा। इस दिन 148 साल बाद शनि जयंती का भी संयोग बन रहा है। इससे पहले शनि जयंती पर सूर्यग्रहण 26 मई 1873 को हुआ था।

वेबसाइट टाइम एंड डेट के मुताबिक भारतीय समय के मुताबिक दोपहर 1 बजकर 42 मिनट से लेकर शाम 6 बजकर 41 मिनट तक सूर्यग्रहण रहेगा। यानी भारत में सूर्यग्रहण की कुल अवधि करीब 5 घंटे की होगी।

भारत में जहां सूर्यग्रहण दिखेगा वहीं सूतक लगेगा
सूर्यग्रहण का सूतक ग्रहण के 12 घंटे पहले शरू हो जाता है। शास्त्रों के मुताबिक जहां ग्रहण दिखता है, वहीं सूतक माना जाता है। सूतक के दौरान कोई भी शुभ काम नहीं किया जाता। इस दौरान खाना बनाना और खाना भी अच्छा नहीं माना जाता। यहां तक कि सूतक काल के दौरान मंदिरों के कपाट भी बंद कर दिए जाते हैं। लेकिन आज के सूर्यग्रहण का सूतक लद्दाख और अरुणाचल को छोड़ देश के बाकी हिस्सों में मान्य नहीं होगा, क्योंकि बाकी जगहों पर ग्रहण दिखेगा ही नहीं।

सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं क्या करें और क्या न करें

ज्योतिष के अनुसार गर्भवती महिलाओं पर सूर्य ग्रहण का बुरा प्रभाव पड़ सकता है। दरअसल गर्भवती महिलाओं के लिए ग्रहण विशेष रूप से बुरा होता है और इस दौरान उन्हें अतिरिक्त सतर्क रहने की आवश्यकता है।

  • गर्भवती माँ को अपने घरों से बाहर नहीं निकलना चाहिए क्योंकि इससे समय से पहले प्रसव या जन्म संबंधी असामान्यताएं हो सकती हैं।
  • उन्हें इस दौरान न सोने या कुछ भी खाने-पीने की सलाह भी नहीं दी जाती है। अजन्मे बच्चे की सुरक्षा के लिए, मन को शांत करने के लिए कुछ संस्कृति मंत्रों का जाप करने की सलाह दी जाती है।
  • सूर्य ग्रहण ने हमेशा गर्भवती महिलाओं के दिलों में एक तरह का डर पैदा कर दिया है। गर्भावस्था का समय हर महिला के लिए महत्वपूर्ण होता है, इसलिए सावधानी बरतना स्वाभाविक है और कुछ मानदंडों का पालन करने में कोई बुराई नहीं है।
  • महिलाओं को कोई भी धातु जैसे हेयरपिन या कड़ा पहनने से बचना चाहिए। लेकिन एक विपरीत धारणा है कि गर्भवती महिलाओं को बच्चे की सुरक्षा के लिए अपने पास कोई भी धातु की वस्तु जरूर रखनी चाहिए।
  • इस दौरान घर मे प्रकाश का प्रवेश वर्जित माना गया है इसलिए खिड़कियों को मोटे पर्दे, अखबार या गत्ते से ढंक दें ताकि ग्रहण की किरणें आपके घर में प्रवेश न कर सकें।
  • गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के समय कोई भी काम नहीं करना चाहिए इस दौरान वे सिर्फ आराम करे। और ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान करें।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार