गाजियाबाद: मां देना चाहती थी बेटी को प्रॉपर्टी में हिस्सा, बेटे ने गोली मारकर हत्या कर दी

 186 ,  1 

गोविदपुरी चौकी क्षेत्र की मेन मार्केट में कलयुगी बेटे ने बुजुर्ग विधवा मां की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक, मां बेटी को भी संपत्ति में बराबर का हक देना चाहती थी, लेकिन छोटा बेटा इस बात से खुश नहीं था। पुलिस ने आरोपित बेटे को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त तमंचा भी बरामद कर लिया है। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम को भेज दिया। पुलिस के आलाधिकारियों ने घटनास्थल का निरीक्षण किया।

मूलरूप से मुरादनगर के दुहाई गांव निवासी सावित्री देवी (74) गोविदपुरी मेन मार्केट में लंबे समय से रहती थीं। उनके पति ब्रहमदत्त त्यागी की करीब एक माह पहले मौत हो गई थी। उनका बड़ा बेटा धर्मेद्र त्यागी, छोटा हरेंद्र त्यागी भी उसी घर में रहते हैं। हरेंद्र, धर्मेद्र के अलावा बहन अनीता भी शादीशुदा है, जो पिछले दिनों ससुराल से मायके आई हुई थी।

पुलिस के मुताबिक, ब्रहमदत्त की मौत के बाद संपत्ति के बंटवारे को लेकर परिवार में विवाद चल रहा था। सावित्री संपत्ति में बेटी को भी बराबर का हक देना चाहती थीं, जिसको लेकर हरेंद्र नाराज था। आरोप है कि शुक्रवार की देर शाम करीब आठ बजे हरेंद्र बाहर से तमंचा लेकर आया और उसने मां को कमरे में धक्का देकर नीचे गिरा गया।

आरोपित ने सावित्री के कनपटी से सटाकर उनको गोली मार दी। इसके बाद घर में चीखपुकार मच गई। गोली मारने के बाद आरोपित घर के बाहर आकर चुपचाप खड़ा हो गया। परिवार वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपित हरेंद्र को गिरफ्तार कर मौके से खाली खोखा व तमंचा भी बरामद कर लिया। पुलिस ने हरेंद्र की पत्नी को भी पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। छानबीन के बाद पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमॉर्टम को भेज दिया। मौके पर सीओ सुनील कुमार सिंह, एसएचओ जयकरण सिंह भारी पुलिसबल के साथ पहुंच गए।

उन्होंने घटना के बारे में परिवार के लोगों से व्यापक पूछताछ की। हरेंद्र का बड़ा भाई धर्मेद्र कॉलोनी में राशन की सरकारी दुकान चलाता है। अनीता ने पुलिस को बताया कि हरेंद्र के साथ अन्य लोग भी थे, लेकिन पुलिस की जांच में अन्य किसी व्यक्ति की भूमिका सामने नहीं आई है। आरोपित और उसकी पत्नी से व्यापक पूछताछ चल रही है। मामले में अभी पुलिस को तहरीर नहीं मिली है।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार