गुजरातः सेवानिवृत DYSP के पुत्र ने पत्नी और पुत्रियों को गोली मार उतारा मौत के घाट, खुद भी कर ली आत्महत्या, रहस्य बरकरार

 240 ,  5 

सेवानिवृत डीवायएसपी के पुत्र ने अपने मित्रों को मैसेज किया जिसमें कहा कि वे आत्महत्या कर रहे हैं

गुजरात के भावनगर शहर में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। एक सेवानिवृत डीवायएसपी के पुत्र ने अपनी पत्नी और दो पुत्रियों के साथ आत्महत्या कर ली है। घटना के चलते पूरे इलाके में सनसनी मच गई है। आत्महत्या करने से पहले डीवायएसपी के पुत्र ने अपने मित्रों को मैसेज किया जिसमें कहा कि वे आत्महत्या कर रहे हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरु की है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, शहर के विजयराजनगर इलाके में सेवानिवृत्त डीवाईएसपी नरेंद्र सिंह बी जडेजा के पुत्र पृथ्वीराजसिंह जडेजा (उम्र 36) ने बुधवार शाम करीब 5-34 बजे अपने मोबाइल फोन पर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को एक संदेश भेजा। इसके बाद उनकी सबसे बड़ी बेटी नंदिनीबा (उम्र 15) और सबसे छोटी बेटी यशस्विबा (उम्र 11) को सिर में गोली मार दी और उनकी पत्नी बिनबा ( 33) को भी पालतू कुत्ते डॉगी को भी सिर में गोली मारकर खुद भी आत्महत्या कर ली।

इस बीच, दोस्तों और रिश्तेदारों ने मेसेज देखने बाद, वे पृथ्वीराज सिंह के घर पहुंचे और घर में चार लोगों के शव पड़े देख चौंक गये। जिसके बाद भावनगर पुलिस को सूचना दी गई। एलसीबी सहित पुलिस का काफिला मौके पर पहुंचा और एफएसएल टीम भी मौके पर पहुंची।

DYSP रहे चुके पिता को मिला है राष्ट्रपति पुरस्कार

सेवानिवृत्त डीवायएसपी नरेंद्रसिंह बी जडेजा घटना के समय पैतृक निवास कालवाड़ तालुका का काल मेघडा गाँव में थे। सेवानिवृत डीवायएसपी नरेन्द्र सिंह जाड़ेजा को राष्ट्रपति पदक से भी सम्मानित किया गया है।

आर्थिक रूप से समृद्ध पृथ्वीराज साढु से थे दुःखी

जालिया के दामाद पृथ्वीराज सिंह का परिवार आर्थिक रूप से समृद्ध कहा जाता है। उन्होंने अपने साढु यशवंत सिंह राणा के साथ मिलकर कोई धंधा शुरु किया था और इसे लेकर परेशान थे। आत्महत्या एक क्षणिक गुस्से में की गई हो सकती है, लेकिन पृथ्वीराज सिंह, जिन्होंने अपनी मासूम दो बेटियों और पत्नी को गोली मारी। इन्होंने ऐसा कदम क्यों उठाया। इस संबंध में रहस्य बरकरार है।

पुलिस कर रही है मामले की जांच

भावनगर पुलिस के मुताबिक पृथ्वीराजसिंह जाड़ेजा के करीबियों से पुछताछ की जा रही है। हालाकि अभी तक आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। घर में से कोई सुसाइट नोट भी नहीं मिला है। रिवोल्वर पृथ्वीराजसिंह जाड़ेजा की थी। फिलहाल मामला दर्ज कर एफएसएल व डोग स्कोर्ड की मदद से जांच शुरु की गई है।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार