गुजरातः नौ नाबालिग लड़कियों का यौन शोषण करने वाला शिक्षक 7 दिन के रिमांड पर

 186 ,  1 

गुजरात की नौ नाबालिग लड़कियों को भगाकर उनका यौन शोषण करने वाले पांच लाख के इनामी शिक्षक धवल त्रिवेदी को सीबीआइ कोर्ट ने 7 दिन के रिमांड पर सौंपने का आदेश दिया है। शिक्षक को सीबीआइ ने रविवार रात को हिमाचलप्रदेश से गिरफ्तार किया था। इसके बाद उसे गांधीनगर लाया गया। मंगलवार दोपहर को उसे अहमदाबाद की सीबीआई कोर्ट में पेश किया गया ।

यह है पूरा मामला

राजकोट की दो नाबालिग लड़कियों के अपहरण व यौन शोषण के मामले में स्‍थानीय अदालत ने त्रिवेदी को 20 साल की सजा भी सुनाई थी, लेकिन पैरोल पर छूट गया तथा अगस्‍त 2018 में चोटीला की एक किशोरी को बहला-फुसलाकर भगा ले गया था। गुजरात के शिक्षा जगत में सनसनी फैलाने वाला धवल हरीशचंद त्रिवेदी 50 थाने महाराष्‍ट्र का रहने वाला है, उसने गुजरात विश्‍वविद्यालय से अंग्रेजी में स्‍नातकोत्‍तर किया था।

अंग्रेजी पर अच्‍छे प्रभुत्‍व को उसने अपने अपराध का बड़ा हथियार बना लिया था। 2014 में सीबीआइ के हत्‍थे चढ़ने के बाद उसने पूछताछ में उसने माय लाइफ इन 10 वूमेन-परफेक्‍ट लेडीज नामक एक पुस्‍तक लिखने की अपनी इच्‍छा व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि इसीलिए उसने उसके संपर्क में आने वाली लड़कियों को प्रेमजाल में फंसाकर उनके साथ शारीरिक संबंध बनाए। अगस्‍त, 2018 में उसने चोटीला की किशोरी को अपना नौवां शिकार बनाया, वह यहां किराये का घर लेकर ट्यूशन क्‍लास चलाया करता था। उसके संपर्क में व पढ़ने आने वाली लड़कियों को वह ऐसे अधेड़ फिल्‍म अभिनेताओं की कहानियों के पुस्‍तक पढ़ने को देता था, जिनके जीवन में कम उम्र की लड़कियां रहीं।

लिग लड़कियों को भगाकर उनका यौन शोषण करने के आरोपित पांच लाख के इनामी शिक्षक धवल त्रिवेदी को सीबीआइ ने हिमाचल प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है। सीबीआइ उसे गुजरात लाकर रिमांड पर लेगी। इसके लिए एक टीम जल्‍द दिल्‍ली रवाना होगी। राजकोट की दो नाबालिग लड़कियों के अपहरण व यौन शोषण के मामले में स्‍थानीय अदालत ने त्रिवेदी को 20 साल की सजा भी सुनाई थी, लेकिन पैरोल पर छूट गया तथा अगस्‍त 2018 में चोटीला की एक किशोरी को बहला-फुसलाकर भगा ले गया था। गुजरात के शिक्षा जगत में सनसनी फैलाने वाला धवल हरीशचंद त्रिवेदी 50 थाने महाराष्‍ट्र का रहने वाला है, उसने गुजरात विश्‍वविद्यालय से अंग्रेजी में स्‍नातकोत्‍तर किया था।

अंग्रेजी पर अच्‍छे प्रभुत्‍व को उसने अपने अपराध का बड़ा हथियार बना लिया था। 2014 में सीबीआइ के हत्‍थे चढ़ने के बाद उसने पूछताछ में उसने माय लाइफ इन 10 वूमेन-परफेक्‍ट लेडीज नामक एक पुस्‍तक लिखने की अपनी इच्‍छा व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि इसीलिए उसने उसके संपर्क में आने वाली लड़कियों को प्रेमजाल में फंसाकर उनके साथ शारीरिक संबंध बनाए। अगस्‍त, 2018 में उसने चोटीला की किशोरी को अपना नौवां शिकार बनाया, वह यहां किराये का घर लेकर ट्यूशन क्‍लास चलाया करता था। उसके संपर्क में व पढ़ने आने वाली लड़कियों को वह ऐसे अधेड़ फिल्‍म अभिनेताओं की कहानियों के पुस्‍तक पढ़ने को देता था, जिनके जीवन में कम उम्र की लड़कियां रहीं।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार