सूरत में फोटो पर कमेंट को लेकर हेड कांस्टेबल के बेटे ने युवक की हत्या

 117 ,  9 

कांस्टेबल के बेटे चिंतन ने कार के साथ फोटो खींचकर सोशल मीडिया पर अपलोड की थी। जिग्नेश चौहान ने फोटो पर कमेंट कर दिया था कि दूसरे की गाड़ी को अपनी बताकर नेता नहीं बना जाता। कमेंट में अपशब्द लिखने पर दोनों में फोन पर कहानुसी हुई थी

सूरत शहर के जहांगीरपुरा में देर रात सोशल मीडिया पर फोटो अपलोड करने के बवाल में 15 लोगों ने धारदार हथियार से दो युवकों पर हमला कर दिया। जिसमें से एक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दूसरे की हालत गंभीर बनी हुई है। हमलावरों में रांदेर थाने के हेड कांस्टेबल का बेटा भी शामिल है। पुलिस ने कांस्टेबल के बेटे चिंतन उर्फ चीतलो समेत 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

कांस्टेबल के बेटे चिंतन ने कार के साथ फोटो खींचकर सोशल मीडिया पर अपलोड की थी। जिग्नेश चौहान ने फोटो पर कमेंट कर दिया था कि दूसरे की गाड़ी को अपनी बताकर नेता नहीं बना जाता। कमेंट में अपशब्द लिखने पर दोनों में फोन पर कहानुसी हुई थी। इसके बाद चिंतन ने जिग्नेश को जहांगीरपुरा में बुलाया था। इसी दौरान चिंतन ने अपने करीब 15 साथियों के साथ मिलकर सुनील और उसके दोस्त पर जानलेवा हमला कर दिया था। मृतक सुनील के पीठ और सीने में चाकू से 8 वार लगे थे। वहीं, सुनील के दोस्त जिग्नेश को 10 घाव लगे हैं।

इसी दौरान उगत रोड के पास सुनील और जिग्नेश कार से बाहर निकलकर बातचीत कर रहे थे, तभी 15-20 युवक धारदार हथियार लेकर टूट पड़े। हमलावरों ने सुनील और जिग्नेश पर चाकू, तलवार से हमला कर दिया। गंभीर रूप से घायल सुनील की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि जिग्नेश की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस शिकायत दर्ज कर तीन शख्सो को गिरफ्तार किया है। जबकि अन्य आरोपी फरार है।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार