मुंबई पोर्ट से 1725 करोड़ रुपये की हेरोइन जब्त

 40 ,  2 

पुलिस ने अफगान नागरिक को गिरफ्तार किया

दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने देश की वित्तीय राजधानी मुंबई से हेरोइन की एक बड़ी खेप बरामद की है। जब्‍त की गई हेरोइन की यह अब तक की सबसे बड़ी खेप है। वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, मुंबई के न्हावा शेवा पोर्ट से 22 टन से अधिक नद्यपान (लिकोरिस) लेपित हेरोइन के साथ एक कंटेनर जब्त किया गया।

अधिकारी ने बताया कि नद्यपान पर लिपटे हेरोइन की कुल मात्रा लगभग 345 किलोग्राम है। सितंबर, 2021 में राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) द्वारा गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पर 3,000 किलोग्राम वजन और 21,000 करोड़ रुपये मूल्य की ड्रग्स की खेप के पकड़े जाने के एक साल बाद नशीली दवाओं की की ये सबसे बड़ी बरामदगी है। डीआरआई ने 17 सितंबर से 19 सितंबर 2021 के बीच मुंद्रा पोर्ट के कंटेनर फ्रेट स्टेशन पर पत्थर की एक खेप में छुपाकर रखी गई हेरोइन को जब्त किया था।

मामले में स्पेशल सेल के स्पेशल सीपी एच.एस. धालीवाल, दिल्ली ने बताया कि इसको भेजने वाला अफगान नागरिक है जो पाकिस्तान में है। इस ड्रग को भेजने वाली कंपनी अफगानिस्तान की है और कंसाइनिंग कंपनी दुबई की है। हमारे पड़ोसी देश में स्थित एक पोर्ट से चला है. इसके पीछे अफगान नागरिक है जिसको गिरफ़्तार कर लिया है। पुलिस के समक्ष सबसे बड़ा सवाल यह है कि नशे की इतनी बड़ी खेप को किसने मंगवाया था? साथ ही यह भी सवाल उठने लगे हैं कि तमाम तरह की सुरक्षा व्‍यवस्‍थाओं के बीच नशे की खेप भारतीय सीमा में कैसे प्रवेश की गई? क्‍या किसी भी स्‍तर पर इसकी छानबीन नहीं की गई थी?