हनीट्रैप कांडः महिला थाने के PSI जे.के बह्मभट्ट की संदिग्ध भूमिका

 166 ,  4 

बताया जा रहा है कि नाम सामने आने के बाद जे.के बह्मभट्ट भूमिगत हो गये

हनीट्रैप कांड में हर रोज नये-नये खुलासे हो रहे हैं। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने पिछले महीने हनीट्रैप के जरिए लोगों को फंसाने वाली महिला पीआई गीता पठाण सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं पुलिस मामले की अभी जांच कर रही है कि अब महिला पुलिस थाने में कार्यरत पीएसआई जे.के बह्रभट्ट भूमिगत हो गये है। बताया जा रहा है कि हनीट्रेप मामले में उनकी भी बड़ी भूमिका है। जिससे गिरफ्तारी से बचने के लिए वे भूमिगत हो गये है।

जानकारी के मुताबिक अहमदाबाद महिला पुलिस थाने की पीआई गीता पठाण और उनकी गैंग के सदस्य सोशल मीडिया पर व्यापारियों को फंसाते थे। यह गेंग व्यापारियों को होटल में बुलाकर उन्हें ब्लेकमेल कर पैस वसुलते थे। महिला पीआई गीता पठाण पैसो लेकर समझौता करती थी। पुलिस जांच में सामने आया है कि इस गैंग के शिंकजे में अभी तक कई आरोपी फंस चुके है।

क्राइम ब्रांच में शिकायत होने के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरु की है। पुलिस ने जितेन्द्र उर्फ जितु मोदी, बिपीन परमार, उन्नति उर्फ राधिका राजपूत और जानवी उर्फ जिनल पढियार को गिरफ्तार किया था। पुछताछ में महिला थाने की पीआई गीता पठाण की भी संलिप्तता सामने आयी, जिसके बाद उन्हे भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार