बिहार में बिना मास्क के पुलिस ने रोका तो विधायकजी बाटने लगे ज्ञान

 173 ,  1 

‘सुशासन बाबू’ के विधायक अपनी ही सरकार की गाइडलाइन की उड़ा रहे धज्जियां

देश में कोरोना वायरस कहर बरपा रहा है। केन्द्र व राज्य सरकारों ने भी इसके रोकथाम के लिए कई कदम उठाये है। सभी को बिना मास्क के घरों के बाहर नहीं निकलने की अपील की है। वहीं कई राज्यों में मास्क के बिना निकलने वालों पर जुर्माना भी लगाया जा रहा है।

यह आदेश आम से लेकर खास सभी पर लागू है। लेकिन बिहार में इसका सख्ती से पालन नहीं हो रहा है। खुद विधायक ही अपनी सरकार की गाइड लाइन का पालन नहीं कर रहे है।

दरअसल बिहार के सीतामढी जिले के विधायक मिथिलेश कुमार अपने काफीले के साथ कार में जा रहे थे। इस दौरान डीएम के निर्देश पर एसडीओ राकेश कुमार और सदर डीएसपी रमाकांत उपाध्याय के नेतृत्व पुलिस अधिकारी चैकिंग कर रहे थे। विधायक कार में सवार थे। वाहन चैकिंग कर रहे पुलिस ने वाहन रोकने का इशारा किया है। लेकिन यह विधायक को नागवार गुजरा।

पुलिस की ये हरकत उन्हें अपमानजनक लगी। ऐसे में जबतक अधिकारी कुछ कहते हैं, इससे पहले ही विधायक जी ही वाहन से तमतमाये उतरे और अधिकारियों को भला-बुरा कहने लगे। उन्होंने यहां तक ​​कहा, “इस तरह की जांच से ही शहर में जाम की समस्या उत्पन्न होती है। पहले जाम हटाइये, फिर मास्क चैक कीजिये।” खास बात यह है कि उस दौरान खुद विधायक जी बिना मास्क के थे।

फोटोग्राफरों पर भी उतारा गुस्सा

इस पूरी घटना के दौरान मीडिया कर्मी भी मौजूद थे। ऐसे में एक मीडिया कर्मी ने अपने उक्त कारनामे की तस्वीर ले ली। यह देख वे गुस्सा गए और भरे हुए अंदाज में कैमरा बंद करने की बात कही। लेकिन तब तक उनका कारनामा कैमरा में कैद हो चुका था। अब विधायक जी के अनोखे ज्ञान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार