जाली बिलिंग के मामले में शामिल कम्पनियों के खिलाफ कार्यवाही, देश के 7200 व्यापारियों की सूची तैयार

 125 ,  1 

गुजरात में पिछले दिनों हजारों करोड़ की जीएसटी चोरी का पर्दाफाश हुआ है

गुड्स एन्ड सर्विस टैक्स विभाग ने देश में जाली कम्पनियां बनाकर जाली बिलों द्वारा करोड़ो रूपये का भ्रष्टाचार करने वाली कम्पनियों की सूची जारी की है। अब आयकर विभाग इनकी जांच करेगा। इसके तहत देश की 7200 और राज्य की 2200 करदाताओं की जांच की जायेगी। इन करदाताओं ने जाली बिल और ई-वे बिल द्वारा जीएसटी की चोरी की है।

राज्य के वित्त सचिव ने बताया कि सरकार ईमानदार करदाताओं की कदर करती है। लेकिन जिन लोगों ने इस प्रकार के भ्रष्टाचार को बढ़ावा देकर उसमे शामिल है उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी। हाल ही में ई-कॉमर्स कम्पनियों ने जाली बिल लेकर खर्च बचाया था।

जीएसटी की टीम ने इसका पर्दाफाश किया था। आयकर विभाग ने अब इनके खिलाफ कार्यवाही की है। कार्यवाही में इन कम्पनियों पर जुर्माना का प्रावधान है।

गौरतलब है कि गुजरात में पिछले दिनों हजारों करोड़ की जीएसटी चोरी का पर्दाफाश हुआ है। पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार