राहुल बोले- बिना इंटरनेट वालों को भी जीने का अधिकार, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन बिना भी सबको लगे वैक्सीन

 91 ,  15 

कांग्रेस नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने गुरुवार को वैक्सीनेशन से पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है कि वैक्सीन के लिए सिर्फ ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन काफी नहीं है। वैक्सीन सेंटर पर वॉक-इन करने वाले हर व्यक्ति को टीका मिलना चाहिए। जीवन जीने का अधिकार उनका भी है, जिनके पास इंटरनेट नहीं है।

कोरोना पर सरकार को घेरते आए हैं
पिछले महीने राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला था। राहुल ने कहा था कि कोरोना की दूसरी लहर के लिए प्रधानमंत्री की नौटंकी जिम्मेदार है। वे कोरोना को समझ ही नहीं पाए। देश में जो डेथ रेट बताई गई वह भी झूठ है। सरकार को सच बोलना चाहिए।.

राहुल ने कहा था कि दूसरे देशों ने मई 2020 में ही वैक्सीन खरीद के ऑर्डर देने शुरू कर दिए थे। लेकिन मोदी सरकार ने भारत को नाकाम कर दिया। उसने वैक्सीन का पहला ऑर्डर जनवरी 2021 में दिया।

सार्वजनिक जानकारी के मुताबिक मोदी सरकार और राज्य सरकारों ने 140 करोड़ की आबादी और 18 साल से ऊपर के 94.50 करोड़ लोगों के लिए अब तक सिर्फ 39 करोड़ डोज ऑर्डर किए हैं। प्रमुख देशों में भारत की पर कैपिटा डोज खरीद सबसे कम है।

दिलचस्प

राजनीति

व्यापार