December 3, 2022
December 3, 2022
Menu

आखिरी मुकाबले में हार के बाद रो पड़े रोजर फेडरर

 82 ,  2 

पेशेवर टेनिस को कहा अलविदा

दुनिया के दिग्गज टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर ने शुक्रवार को अपने करियर के आखिरी टूर्नामेंट लेवर कप में हार के साथ टेनिस से संन्यास ले लिया। इस अंतिम टूर्नामेंट में फेडरर ने राफेल नडाल के साथ जोड़ी बनाई थी। अमेरिका के फ्रांसेस टियाफो और जैक सॉक के साथ हुए इस मुकाबले में 4-6, 7-6 (2), 11-9 से फेडरर को हार का सामना करना पड़ा। मुकाबले के बाद फेडरर के साथ-साथ नडाल भी रोते दिखे। मैच देखने आए नोवाक जोकोविच भी अपनी आंसुओं को रोक नहीं पाए।

रोजर फेडरर मैच के बाद काफी भावुक दिखाए दिए। उनकी आंखों में आंसुओं की झलक नजर आ रही थी। टेनिस कोर्ट के बीच में खड़े में होकर उन्होंने अपने दोनों हाथों को ऊपर उठाकर लोगों का अभिवादन किया। इसके बाद नोवाक जोकोविच से मिले। इस दौरान राफेल नडाल भी फेडरर की विदाई के पलों को महसूस कर भावुक नजर आए।

फेडरर अपने पिछले पेशेवर मैच में पोलैंड के ह्यूबर्ट हूरकैज के खिलाफ विंबलडन के क्वार्टरफाइनल में हार गए थे। वह घुटने की समस्या के कारण लंबे समय तक नहीं खेल पाए। फेडरर लेवर कप में एकल के मुकाबले में नहीं उतरेंगे। वहीं 41 वर्षीय फेडरर ने कहा था, ”मुझे नहीं पता कि मैं अच्छे से खेल पाऊंगा या नहीं, लेकिन मैं कोशिश जरूर करूंगा। यह एक अलग अनुभव है। मैं उन्हें (नडाल) अपनी टीम में देखकर और उनके खिलाफ नहीं खेलकर खुश हूं।”

दूसरी ओर, नडाल ने कहा था कि वह अपने स्विस प्रतिद्वंद्वी के साथ एक “अविस्मरणीय” मैच की प्रतीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा, ”मेरे टेनिस करियर के सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ी अब खेल से अलग हो रहे हैं। यह क्षण मुश्किल होगा। मैं उनके साथ खेलने के लिए बहुत उत्साहित और आभारी हूं।”

फेडरर ने करीब 25 सालों तक पेशेवर टेनिस खेला। उन्होंने सितंबर 1997 में 16 साल की उम्र में डेब्यू किया था। रैंकिंग में 803 वें स्थान से अपना सफर शुरू करने के बाद शीर्ष तक पहुंचे। फेडलर 237 सप्ताह तक वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर वन पर रहे हैं। रैंकिंग में सबसे अधिक समय तक पहले स्थान पर रहने का उनका रिकॉर्ड सर्बियाई खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने तोड़ा था।